Shayri.com

Shayri.com (http://www.shayri.com/forums/index.php)
-   Pyaar Bhari SMS Shayri (http://www.shayri.com/forums/forumdisplay.php?f=41)
-   -   हम तेरी मुहब्बत में आफताब बन गए (http://www.shayri.com/forums/showthread.php?t=80252)

silent-tears 20th October 2017 10:09 PM

हम तेरी मुहब्बत में आफताब बन गए
 
हम तेरी मुहब्बत में आफताब बन गए
जिसमें न धुंआ हो वो आग बन गए
उगते रहे हैं शूल भी सीने की जमीं से
जबसे तुम मेरे दिल के गुलाब बन गए
अब देखना दुनिया को न हो सका मुमकिन
तुम मेरी निगाहों पे नकाब बन गए
हम आज तक छुपाते रहे राज ए मुहब्बत
नजाने तुम किस तरह हमराज बन गए

sunita thakur 26th October 2017 03:26 PM

Quote:

Originally Posted by silent-tears (Post 496210)
हम तेरी मुहब्बत में आफताब बन गए
जिसमें न धुंआ हो वो आग बन गए
उगते रहे हैं शूल भी सीने की जमीं से
जबसे तुम मेरे दिल के गुलाब बन गए
अब देखना दुनिया को न हो सका मुमकिन
तुम मेरी निगाहों पे नकाब बन गए
हम आज तक छुपाते रहे राज ए मुहब्बत
नजाने तुम किस तरह हमराज बन गए

wahhhhh........................bahut khoob :)

kabir_shayer 26th October 2017 06:47 PM

हम आज तक छुपाते रहे राज ए मुहब्बत
नजाने तुम किस तरह हमराज बन गए........


Umdaa Kalaam Pesh Kiya Hai.
Jazbaat nikal kar baahar aa rahe hain.

Keep writing
God Bless You....


All times are GMT +5.5. The time now is 06:00 PM.

Powered by vBulletin® Version 3.8.5
Copyright ©2000 - 2020, Jelsoft Enterprises Ltd.