View Single Post
Old
  (#2)
Madhu 14
Moderator
Madhu 14 has much to be proud ofMadhu 14 has much to be proud ofMadhu 14 has much to be proud ofMadhu 14 has much to be proud ofMadhu 14 has much to be proud ofMadhu 14 has much to be proud ofMadhu 14 has much to be proud ofMadhu 14 has much to be proud ofMadhu 14 has much to be proud ofMadhu 14 has much to be proud of
 
Madhu 14's Avatar
 
Offline
Posts: 5,206
Join Date: Jul 2014
Rep Power: 25
10th May 2016, 02:41 PM

Quote:
Originally Posted by MUKESH PANDEY View Post
शराफत से मिलो तो कमजोर समझते हैं लोग ,
किसी को सताने की ,मेरी आदत ही नही।


नजरें मिलाके देखो तो, भड़कते हैं लोग,
तिरछी निगाहें डालने की, मेरी आदत ही नही।


सच्चाई से जंग लड़ो तो दगा करते हैं लोग,
पीछे से वार करने की, मेरी आदत ही नही।


धर्म की सच्चाई को समझते नही लोग,
झूठी अंधश्रध्दा की, मेरी आदत ही नही।


ज्ञान की बाते करो तो टालते हैं लोग,
व्यर्थ की बातें करने की, मेरी आदत ही नही।


मेरे हर एक काम में विघ्न डालते हैं लोग,
मुश्किलों से भागने की, मेरी आदत ही नही।


गद्दारों और मक्कारों को सलाम करते हैं लोग,
नमक हरामी करने की, मेरी आदत ही नही।
By: MUKESH PANDEY


Very nice.........................



अर्ज मेरी एे खुदा क्या सुन सकेगा तू कभी
आसमां को बस इसी इक आस में तकते रहे
madhu..
   
Reply With Quote