Shayri.com  

Go Back   Shayri.com > Search Forums

Showing results 1 to 5 of 5
Search took 0.00 seconds.
Search: Posts Made By: Ayushbhatt
Forum: Shayri-e-Ishq 7th April 2016, 08:47 PM
Replies: 4
Views: 1,941
Posted By Ayushbhatt
Post ना ज़िन्दगी से गिला है ना मौत से डर है

ना ज़िन्दगी से गिला है ना मौत से डर है
मंज़िल है गुमशुदा बस सफ़र ही सफ़र है

बेपरवाह रास्तो पर ना कोई हमसफ़र है
होने वाली शाम है और दूर अपना घर है

थक चुके है कदम पर धड़कनो में सबर है
रुकना नहीं हार...
Forum: Shayri-e-Ishq 11th March 2016, 06:46 PM
Replies: 4
Views: 1,863
Posted By Ayushbhatt
Thank you Madhu ji..kafi kuch share karna hai.....

Thank you Madhu ji..kafi kuch share karna hai.. dekhte hai aur bhi log pasand karenge shayad..
Forum: Shayri-e-Ishq 11th March 2016, 04:31 PM
Replies: 4
Views: 1,863
Posted By Ayushbhatt
Love तुम जैसी हो..वैसी रहने दो..

शाम के उन लम्हों जैसी हो तुम
जिन्हे सुबाह का खयाल ना हो..
रात की फ़िक्र ना हो..
जो बादलों को अपने धागों से बांधकर रक्खे
बरसात की बाते करे
और कभी बरस भी न पाये..
तुम खुशबुओं के सायों में कही...
Forum: Shayri-e-Dard 11th March 2016, 04:24 PM
Replies: 5
Views: 1,247
Posted By Ayushbhatt
Hello Madhu ji.. bahot bahot Shukriya aapke...

Hello Madhu ji.. bahot bahot Shukriya aapke comment ke liye. It means a lot to me..
Forum: Shayri-e-Dard 11th March 2016, 12:40 PM
Replies: 5
Views: 1,247
Posted By Ayushbhatt
Post तुजे अक्सर जब तन्हाई में सोचता हूँ..

Hello Everyone I am hereby posting my first write up as I am a new memeber. Please reply me with your reviews. Thanks.

तुजे अक्सर जब तन्हाई में सोचता हूँ..
ये पलकें मेरी भर आती है।
जब बसर हो...
Showing results 1 to 5 of 5

 
Forum Jump


Powered by vBulletin® Version 3.8.5
Copyright ©2000 - 2021, Jelsoft Enterprises Ltd.
vBulletin Skin developed by: vBStyles.com