View Single Post
जो कुछ मलाल है सीने में, उसे यूँ ही तो मत रहने
Old
  (#1)
Baghbaan
Registered User
Baghbaan is a name known to allBaghbaan is a name known to allBaghbaan is a name known to allBaghbaan is a name known to allBaghbaan is a name known to allBaghbaan is a name known to all
 
Offline
Posts: 112
Join Date: Nov 2010
Location: Delhi
Rep Power: 18
जो कुछ मलाल है सीने में, उसे यूँ ही तो मत रहने - 22nd October 2020, 03:29 PM

जो कुछ मलाल है सीने में, उसे यूँ ही तो मत रहने दो
रक्खो दिल से इसका वास्ता, इसे अश्कों में तो बहने दो l

कब तक रहेंगे बेज़ुबां, कब तक न बरसे आसमां
अब इंतिहा भी हो गई, ख़ामोशी को ही अब कहने दो l

सुनता है जो सबकी मगर, करता वही जो ठीक है
मिल जाती है मंजिल उसे, जलते हैं जो, उन्हें जलने दो l

हर दर्द का आगाज़ यहीं, हर दर्द का अंजाम यहीं
जो ज़ख्म अभी तक गहरे हैं, उन्हें वक़्त दो, उन्हें भरने दो l

जहाँ ज़िक्र नहीं है आपका, वहाँ फ़िक्र नहीं है आपकी
ऐसी मुलाकातों में ग़र मिलना हो तो, यश, रहने दो l


(जसपाल)
Baghbaan
   
Reply With Quote